Toll ticket doesn’t allow you to come back for free within 12 hours.

This fake message has been viral on Social Media, especially on WhatsApp for years.

 

Further digging led to old exposure by Dainik Bhaskar

हमारी इन्वेस्टिगेशन में सामने आई ये सच्चाई
– वायरल मैसेज में दावा नेशनल हाईवे अथॉरिटी (NHAI) से जुड़ा है, इसलिए सच जानने के लिए हमने सबसे पहले NHAI की ऑफिशियल वेबसाइट पर इससे जुड़ा नोटिफिकेशन सर्च किया। लेकिन वहां हमें ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली। 
– इन्वेस्टिगेशन के दौरान काफी खोजने के बाद हमें NHAI की ओर जारी 2017-18 का टोल प्लाजा यूजर फीस एग्रीमेंट लेटर मिला। इस लेटर में सिंगल जर्नी, मल्टीपल जर्नी और मंथली पास के किराए के बारे में जानकारी दी गई थी, लेकिन इसमें 12 घंटे की टोल पर्ची के बारे में कुछ नहीं लिखा था। 
– फिर हमने वायरल दावे को लेकर NHAI प्रोजेक्ट डायरेक्टर विजय शर्मा से बात की। उन्होंने बताया कि वायरल मैसेज में किया जा रहा 12 घंटे की पर्ची वाला दावा बिल्कुल गलत है। ऐसा कोई नियम नहीं है। टोल प्लाजा से गुजरने वाली गाड़ियों से सिर्फ तीन तरह के चार्ज ही लिए जाते हैं, सिंगल, मल्टीपल/डबल और मंथली पास।
– NHAI प्रोजेक्ट डायरेक्टर के मुताबिक, टोल प्लाजा से वाहन क्रॉस होते ही सिंगल ट्रिप वाली पर्ची की वैधता खत्म हो जाती है। वहीं, मल्टीपल ट्रिप की पर्ची 24 घंटे के अंदर आने-जाने के लिए होती है। मल्टीपल पर्ची का किराया सिंगल ट्रिप से करीब डेढ़ गुना होता है। NHAI यूजर फीस एग्रीमेंट में 12 घंटे जैसी कोई भी पर्ची नहीं होती है।  
– इन्वेस्टिगेशन के दौरान हमें ये भी पता चला कि एक ट्रक ड्राइवर के इस संबंध में वीडियो अपलोड करने के बाद से ही ये झूठा मैसेज वायरल  होने लगा है। 
(Article by SMhoaxslayer)